मेरठ। विदेश में चल रहे आईपीएल मैचों पर आनलाईन सट्टा खेलने का अवैध धंधा पूरे देश में सुनियोजित तरीके से खेला जा रहा है। सदर और लालकुर्ती थाना पुलिस ने मिलकर आईपीएल सटृे से जुड़े दस लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पकड़े गये लोगों के पास से लैपटॉप दर्जन से ज्यादा मोबाइल और सवा तीन लाख रुपये बरामद किये है।

आईपीएल क्रिकेट मैच में आनलाइन सटृे के विरुद्ध एसएसपी के निर्देशानुसार चलाये जा रहे अभियान के दौरान सदर सर्किल क्षेत्र एएसपी डाक्टर ईरज राजा के नेतृत्व में सदर और लालकुर्ती पुलिस ने दो अलग—अलग होटलों से दस लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की गिरफ्त में आये दस लोगों में चार ट्रांसपोर्टर, व्यापारी और एक तहसील कर्मचारी शामिल है। पकड़े गये लोगों के पास से दो लैपटॉप, 17 मोबाइल, एक लाख चालीस हजार एक सौ साठ रुपये बरामद किये हैं।
एएसपी डाक्टर ईरज राजा ने बताया कि पुलिस को आईपीएल आनलाईन मैच मे सटृे की सूचना लगातार कई दिनों से मिल रही थी। ऐसे लोगों को चिन्हित कर उनके खिलाफ आपरेशन चलाया जा रहा है। इस क्रम में एक ज्वाइंट आपरेशन के तहत लालकुर्ती व सदर पुलिस ने होटल लाभ और स्टॉर प्लॉजा से सटृटा संचालित करने वाले और बुकी को गिरफ्तार किया है। पिछले दिन टीपी नगर और सिविल लाइन क्षेत्र में भी मैच पर सट्टा करने वालों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

पकड़े गये लोगों के नाम इस प्रकार हैं—
1सूशील गुप्ता पुत्र कृष्ण गुप्ता सैक्टर 7 शास्त्रीनगर, जयदीप सिंह निवासी अमरोहा, सौरभ भटनागर निवासी नाहटौर बिजनौर,गौरव राठौर निवासी नई तहसील देहली गेट, ईशान्त सिंह पुत्र स्व अशोक कुमार, नई तहसील देहली गेट, शहर्ष गुलाटी शर्मा नगर सिविल लाईन, वासिफ निवासी कोतवाली, सादिक निवासी पैरामल कोतवाली , ए​हतशाम निवासी शकूर नगर लिसाड़ी गेट, शादाब निवासी पेड़ामल कोतवाली हैं।
सरकारी कर्मचारी और व्यापारी जुड़े हैं इस अवैध धंधे से
——आईपीएल क्रिकेट मैच में आनलाइन सटृे के अवैध धंधे से एक बड़ा वर्ग व्यापारी और सरकारी कर्मचारी है। अधिकांश तो व्यापारियों ने गुपचुप तरीके से अपने घर बैठकर ही इस धंधे में करोड़ों रुपये की हार जीत करते है। पुलिस नेटवर्क भी इस धंधे मे फेल साबित होता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here