बस में महिला को शराब पिलाकर दुष्कर्म करने के आरोपी चालक-परिचालक गिरफ्तार, ये मामला आया सामने

ससुराल से मायके जा रही महिला को बस में शराब पिलाकर दुष्कर्म करने के मामले में चालक और परिचालक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनका कहना है कि महिला इन दोनों की पहले से परिचित है। चालक सुनील चौधरी सेना से बर्खास्त जवान है।

0
235

मेरठ। शुक्रवार की शाम चार बजे अपनी ससुराल सरूरपुर से मायके मिर्जापुर जाने के लिए निकली महिला से बस में चालक और परिचालक द्वारा दुष्कर्म करने का मामला सामने आया था। इससे हड़कंप मच गया था, मामला शासन तक भी पहुंचा। पुलिस ने इस ​मामले की जांच शुरू की तो ​परतें दर परतें खुलती चली गई। पुलिस ने सेना से बर्खास्त किए जाने के बाद अपनी चला रहे सुनील चौधरी को शनिवार की देर रात ही गिरफ्तार कर लिया था तो रविवार को परिचालक को मोदीनगर से गिरफ्तार कर लिया गया। महिला के बयानों के पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें: Honour Killing: प्रेमी की पिटाई के बाद युवती ने लगा ली फांसी, परिवार ने गुपचुप कर दिया अंतिम संस्कार

मिर्जापुर ​के छिनौती की महिला की 3 साल पहले सरूरपुर थाने के एक गांव निवासी युवक से विवाह हुआ था। शुक्रवार की शाम को चार बजे महिला अपनी ससुराल से मायके के लिए निकली थी। आटो में सवार होकर बेगमपुल पहुंची। वहां से ई-रिक्शा में बैठकर रोडवेज बस स्टैंड पर आ गई। महिला ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि वहां से गाजियाबाद की बस में सवार हो गई। महिला ने चालक और परिचालक पर बस में शराब पिलाकर सामूहिक दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था। पुलिस ने बस के चालक सुनील चौधरी को गिरफ्तार कर वारदात का पर्दाफाश किया।

यह भी पढ़ें: Meerut: पत्नी को कोल्ड ड्रिंक में दे दी नशे की गोली, साली से कर डाला बलात्कार

सुनील चौधरी ने पूछताछ में बताया कि महिला पहले से उसकी परिचित है। वह और परिचालक बस में ही महिला को देवलोक कॉलोनी में अपने मकान में ले गए थे। जहां पर सुनील चौधरी और परिचालक अरविंद ने महिला को शराब पिलाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। पुलिस ने मोदीनगर से परिचालक अरविंद को भी गिरफ्तार कर लिया है ब्रह्मपुरी थाने में लाकर अरविंद से पूछताछ की जा रही है। साथ महिला के 161 सीआरपीसी में बयान दर्ज किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: हमले के बाद कोमा में चले गए युवक की मौत से गुस्साई भीड़ ने थाना घेरा और पुलिस के खिलाफ खोला मोर्चा, ये है पूरा मामला

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here