Saharanpur: 7 साल के भतीजे की अपहरण के बाद हत्या में चाचा समेत तीन गिरफ्तार, ये वजह आयी सामने

सहारनपुर में सात साल के बालक के अपहरण के बाद हत्या की वारदात सामने आायी है। इसके आरोप बालक के चाचा पर लगा है। पुलिस ने चाचा और उसके दो साथियों को हिरासत में लिया है। इनकी निशानदेही पर शुक्रवार की सुबह करीब तीन बजे बालक का शव नाले के पास से बरामद किया गया।

0
234

सहारनपुर। वेस्ट यूपी में बढ़ते क्राइम की वजह आपसी रंजिश भी है। इसलिए शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में क्राइम ग्राफ बढ़ा है। सहारनपुर में पारिवारिक रंजिश के कारण सात साल के बालक की हत्या का मामला सामने आया है। पुलिस ने जब जांच शुरू की तो चाचा समेत तीन लोगों को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ शुरू की तो आखिर में उनकी निशानदेही पर बालक का शव नाले के पास से बरामद किया गया।

यह भी पढ़ें:  BJP Leader विनीत अग्रवाल शारदा ने सीएम योगी को Meerut के व्यापार-उद्योगों के विकास के लिए दिए ये महत्वपूर्ण सुझाव

जनपद के कुतुबशेर थाना क्षेत्र में सात वर्षीय बालक की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। बालक के चाचा सहित तीन लोगों पर हत्या का आरोप लगा है। पुलिस ने आरोपियों को हिरासत ले लिया है। वहीं बालक के शव को किशनपुरा नाले के पास से बरामद किया। बताया गया कि ढोलीखाल निवासी गयासुद्दीन का बेटा शमी गुरुवार रात लापता हुआ था। काफी ढूंढने के बाद नहीं मिला। इसके बाद देर रात करीब ढाई बजे शव बरामद हुआ। गला दबाकर उसकी हत्या की गई।

यह भी पढ़ें:  पत्नी की बहन के साथ शादी करने के बाद बैठी पंचायत, ​खूल चली गोलियां, 6 लोग घायल

इंस्पेक्टर विनोद कुमार ने बताया कि रात को ही गयासुद्दीन के चचेरे भाई शोहेब पर शक हुआ तो उसे हिरासत में लिया गया। इसके बाद इसके दो साथी शादान व शहजाद को भी पकड़ लिया गया। ये दोनों बिजनौर से आए थे। तीनों ने पुलिस को बताया कि शव कहां पर है। इसके बाद पुलिस ने किशनपुरा नाला पटरी के पास से शमी का शव बरामद किया। बच्चे के मुंह पर टेप लगी थी और गला दबाकर उसकी हत्या की गई है। हत्या के पीछे पुरानी पारिवारिक रंजिश बताई जा रही है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here