People wearing face shields wait at a COVID-19 coronavirus testing centre after their arrival in Srinagar on July 16, 2020. (Photo by TAUSEEF MUSTAFA / AFP)

मेरठः जिले में corona positive का आंकड़ा दिन- प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। जैसे- जैसे आंकड़ा बढ़ रहा है स्वास्थय विभाग के इतने ही हाथ-पांव फूल रहे हैं। मंगलवार की रात एक और कोरोना संक्रमित की मौत हो गई। जिसके जनपद में हुई मौत का 93 पर पहुंच गय़ा। साथ ही 52 नए लोगों में कोरोना की पुष्टी हुई। जिसके बाद स्वास्थय विभाग सहित पूरा प्रशासन हरकत में है।

ये भी पढ़ें

मेरठः पति- पत्नी ने एक साथ लगाई फांसी, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

जिले में  52 नए केस मिलने के बाद अब corona पॉजिटिव मरीजों की संख्या 2287 तक पहुंच गई है। मंगलवार को मिले केसों में सात साल से लेकर 74 साल तक के मरीज शामिल हैं। इनमें इंजीनियर, बैंक कर्मचारी, सर्राफा व्यापारी, खेल व्यापारी, नगर निगम के कर्मचारी, स्टूडेंट्स, हाउस वाइफ आदि शामिल हैं। अभी तक कुल 1897 मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई। एक्टिव केसों की कुल 297 है। वीकेंड लॉकडाउन से मरीजों की संख्या में मामूली असर पड़ा है, क्योंकि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का जमकर उल्लंघ्न कर रहे हैं। इससे बुरी हालत वीकेंड लॉकडाउन हटने के बाद देखने को मिल रही है। सीएमओ डा. राजकुमार का कहना है कि लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखने की जरूरत है। रक्षाबंधन की वजह से आज बाजारों में काफी भीड़ दिखाई दी. लोग अपनी जान जोखिम में डालकर बाजारों में घूम रहें हैं। जिसका खामियाजा दिन-प्रतिदिन भुगतना पढ़ रहा है। यूपी में मेरठ आज तक कंटेनमेंट जोन बना हुआ है, जबकि अन्य जिलों में स्थिति काफी काबू में आ गई है

वहीं डीएम अनिल ढिंगरा का कहना है कि यदि यही हालत रही तो lockdown के नियम और सख्त किए जाएंगे। बिना वहज घूम रहे लोगों से और सख्ती से निपटा जाएगा।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here