अब कूड़ा और पराली जलाने पर दर्ज होगी FIR, ​इतना जुर्माना भी देना पड़ेगा

एनजीटी और केंद्रीय पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण ​के आदेशों को सख्ती से लागू करवाने के लिए नगर निगम इन दिनों तैयारी कर रहा है। ​शहरी क्षेत्र में कूड़ा और पराली जलाने पर अब एफआईआर दर्ज करने के साथ—साथ 500 से लेकर ​25 हजार रुपये तक जुर्माना वसूला जाएगा।

0
313

मेरठ। शहर में हवा खराब (Air Pollution) करने वालों पर अब एफआईआर (FIR) और बड़ा जुर्माना (Penalty) वसूलने की तैयारी की जा रही है। कूड़ा (Garbage) और पराली (Parali) जलाने से वायु प्रदूषण करने को लेकर नगर निगम (Nagar Nigam Meerut) सख्त कार्रवाई करने जा रहा है। एनजीटी (NGT) और केंद्रीय पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (Central Pollution Control Board) के आदेशों के मद्देनजर नगर निगम यह कवायद ​कर रहा है। नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. गजेंद्र सिंह ने सफाई एवं खाद्य निरीक्षक, सफाई नायक और सफाई कर्मचारियों को ये जिम्मेदारी दी है।

यह भी पढ़ें: Hathras Case: मृतका के परिजनों ने अस्थि ​विसर्जन करने से किया इनकार, कहा-जब तक उन्हें न्याय नहीं मिलता…

नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. गजेंद्र सिंह ने बताया कि प्रत्येक वार्ड में कूड़ा स्थलों का निरीक्षण किया जाएगा। सबसे ज्यादा समस्या बाजार वाले क्षेत्रों में है। कूड़े से भरे डस्टबिन में लोग आग लगा देते हैं। साथ ही शहर के बाहरी इलाकों में पराली जलाई जाती है। कूड़े में आग लगने की सूचना मिलते ही सफाई एवं खाद्य निरीक्षक या सफाई नायक मौके पर पहुंचेंगे। कूड़े में आग कैसे लगी और किसने लगाई, यह जानकारी जुटाई जाएगी और उसके बाद संबंधित व्यक्ति के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज होगा। कूड़े में आग लगाने वालों से सफाई एवं खाद्य निरीक्षक तुरंत जुर्माना राशि वसूलेंगे। जुर्माने की राशि 500 रुपये से लेकर 25 हजार रुपये वसूली जाएगी।

यह भी पढ़ें: पिता की डांट से नाराज किशोरी मिली टेंपो चालक की प्रेमिका के घर, अगवा करके बेचने को लगाई बोली

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here