मवाना में जाम की समस्या बनी जी का जंजाल.. समाधान दिवस में उठा मुद्दा

0
38

meerut: मवाना में जाम की समस्या किसी से भी छिपी नहीं हैं। जाम के झाम से व्यापारियों को ही नहीं बल्कि आमजन को भी जूझना पड़ता है. कई बार जाम की समस्या से निपटने की रुपरेखा तैयार की गई. लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है. शनिवार को थाना दिवस में मुख्य रुप से कस्बे के व्यापारियों ने जाम की समस्या के बारे में अधिकारियों को अवगत कराया. साथ जाम से निपटने के लिए व्यापक कदम उठाने की मांग रखी. अधिकारियों ने भी समस्या को गंभीरता से लेते हुए कार्ययोजना तैयार करने की बात कही.

…हैलो मैं जेल से बोल रहा हूं, बंदी अब सप्ताह में पांच दिन कर सकेंगे घर पर बात

 

शनिवार समाधान दिवस के अवसर पर कस्बे के व्यापारियों ने व्यापार संगठन के माध्यम से  12 सूत्रिय ज्ञापन अधिकारियों को सौंपा. जिसमें बताया गया कि  अक्सर कस्बे में बाजार या हाईवे पर लगने वाले जाम का व्यापरियों को दोषी ठहराया जाता है। जाम लगने के व्यापारियों के अलावा अन्य लोग भी जिम्मेदार है। उन्होने बताया कि जाम नगर के लिये एक गंभीर समस्या है। इस पर पुलिस प्रशासन मीटिंग बुलाये तभी स्थायी समाधान करे। जब भी नगर में जाम की समस्या का जिक्र होता है तो केवल-केवल व्यापारी को ही जाम का दोषी ठहराया जाता है, जबकि इसके अन्य कारण भी है।
meerut: हंगामें के बाद हरकत में आई पुलिस, आरोपी को भेजा जेल

 

ये दिए सुझाव

इस संबध में उन्होने दिये गय पत्र में बातया कि जाम के निस्तारण के लिए नगर पालिका, व्यापार मंडलों, बैंको, अस्पताल संचालकों, थ्री व्हीलर आदि के प्रतिनिधियों को बुलाकर एक योजना बनाकर कार्य हो तभी समाधान होगा। जिसके लिए प्रशासन को नगर में पार्किग बनाने के लिये जगह चिन्हित करी जाये, प्रातः 8 बजे रात्रि 8 बजे तक ओवरलोड़ ट्रक व वाहन भी जाम का कारण है, प्राइवेट बसों व रोडवेज बसों की सवारी चढ़ाने और उतारने का स्थान रोडवेज बस स्टैण्ड, थाना मवाना स्टॉप तथा पुलिस चौकी निर्धारित किये जाये, थ्रीव्हीलर की संख्या निर्धारित कि जाये, नगर में ई-रिक्शाओं की संख्या निर्धारित की जाये,

साथ ही नाबालिग को वाहन चलाने पर रोक लगायी जाये, सभी मुख्य मार्गो पर दुकानों से 4-4 फीट आगे खम्भें लगे है, जिसकी आड़ में अतिक्रमण होता है , बैंको के आगे पार्किंग की सुविधा नही है, वाहन हाइवे पर इधर-उधर खड़े ना हो उसके लिये पैट्रोलिंग की व्यवस्था की जाये। पत्र सौपने वालों में शैवाल दुबलिश, नदीम, मांगेराम मित्तल, सोनू सूर्या उपस्थित रहे।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here